कश्मीर में क्या करना चाहती है नरेंद्र मोदी सरकार

2014 में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी सरकार बनने के बाद से ही कश्मीर का मुद्दा इस सरकार के मुख्य एजेंडे में शामिल रहा है. समय-समय पर पीएम मोदी की तरफ से ऐसी बयानबाजियां देखने को भी मिली है

शुरू हो गई टेस्ट चैम्पियनशिप, दो साल बाद ऐसे तय होगा विश्व चैम्पियन

टेस्ट क्रिकेट को हमेशा से ही पारम्परिक क्रिकेट का प्रारूप माना जाता है. कहा जा रहा है कि विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के दौरान टेस्ट क्रिकेट को एक नया आयाम मिलेगा और इसमें लोगों को फिर से रूचि देखने को मिलेगी.

वंदेमातरम् विवाद: बंकिमचन्द्र चट्टोपाध्याय जीवित होते तो माथा पीट लेते!

वंदे मातरम की रचना करते समय बंकिम चंद्र चटोपध्याय ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि एक दिन उनकी इस रचना को देशभक्ति के सर्टिफिकेट के तौर पर उपयोग किया जाएगा

एमपी चुनाव: धूल झाड़कर उठ खड़ी हो पाएगी कांग्रेस?

Madhya Pradesh Elections: पूरे चुनावी रण में मतदाताओं की खामोशी ने राजनेताओं के दिलो दिमाग में तड़प पैदा कर दी थी. बीजेपी और कांग्रेस के बड़े नेताओं तक को यह नहीं पता चल पाया कि वो जिस भाग्य विधाता से रोज मिलने जा रहे हैं वो मतदान किसको करेगा.

‘कप्तान खान’ अगर ‘फौजी खान’ नहीं बने तो पाकिस्तान का बदलना तय!

पाकिस्तानी राजनीति का इतिहास उठा कर देखें तो सिर्फ गिने चुने नाम आएंगे जो जननेता के रूप में उठकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बने हो. और ये तय के अब उस इतिहास में इमरान खान का नाम सबसे ऊपर लिखा जाएगा

बर्थडे स्पेशल: गांगुली पहले भी दादा थे, आज भी दादा हैं!

गांगुली इस समय क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ़ बंगाल के अध्यक्ष हैं, हर कोई उनकी प्रशासनिक क्षमता की तारीफ कर रहा है, और बहुत संभावना है कि आने वाले सालों में वे BCCI में भी अपना प्रशासनिक कौशल दिखाएंगे

मंदसौर रेप: राजनीति से पेट नहीं भरा हो तो थोड़ा शर्म कर लीजिए

अगर अब नहीं चेते तो स्थिति और भयावह हो जाएगी और वो दिन दूर नहीं होगा जब ऐसे रेपकांड और ऐसे केस सीधे हमसे जुड़ने लगेंगे

कैसे संभलेगी कश्मीर की नैया राज्यपाल भरोसे

वोहरा को संभालने के लिए बिगड़ैल हाथी मिला है जो तांडव करने को आतुर है. वोहरा कैसे महावत साबित होंगे यह आने वाले दिनों में ही पता चल सकता है.

डूप्लेसिस भाई माफ करना, जूता मारना हमारी संस्कृति नहीं है

चेपक स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच हो रहे मैच के दौरान स्टेडियम में जूता उछाला गया जो रविंद्र जडेजा के पास जाकर गिरा। इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाड़ी फॉफ डू प्लेसिस की ओर भी जूता फेंका, जो उनसे कुछेक दूरी पे जाकर गिरा।