सरकारें और पार्टियां हैं खिलाड़ी, फुटबॉल बनकर रह गई है CBI

केंद्रीय जांच एजेंसी यानी सीबीआई. इस संस्था का नाम है. मतलब एकदम भौकाल ही है. अकसर बड़े-बड़े मामलों में मांग की जाती है CBI से जांच...

सुशांत, हाथरस केस: जांच में देरी से मीडिया को मिलते हैं मौके

पिछले कुछ महीनों में मीडिया रूपी गिद्ध को दो मामले मिले. इन दो मामलों ने मीडिया को टीआरपी रूपी संजीवनी दी. सिर्फ किम जोंग और...

अपराधों पर पुलिसिया ढिलाई और आरोपियों के पक्ष में खड़े ट्रोल

शायद वह जमाना चला गया, जब दमन की किसी घटना पर जनता सड़क पर उतर आती थी। हाथरस में गैंगरेप/हत्या का मामला भी कुछ ऐसा...

बंबई में का बा के बाद, अब यूपी में का बा?

यूपी में का बा? युवा परेसान बा बेरोजगारी के भरमार बा घोटाला करत सरकार बा भर्ती के नाम पे निकालत संविदा पे रोजगार बा अरे...

लॉकडाउन में शराब मिलने के बाद पढ़ें बेवड़ों का इंटरव्यू

देश एक मुश्किल दौर से गुजर रहा हैं। हम सब नौकरी से लेकर जान तक गवां रहे हैंं लेकिन एक वर्ग ऐसा भी हैं, जो...

कोरोना वायरस ने एक झटके में पुलिस सिस्टम को सुधार दिया है?

कहा जाता है कि आग लगने पर कुआं खोदने का फायदा नहीं होता। फिलहाल भारत में लगी कोरोना की आग में ऐसे कई कुएं खोदे...

वर्क फ्रॉम होम पर क्या है ‘कोरोना वायरस’ का कहना, पढ़िए

आज बात उनकी जिनको किसी ने देखा नहीं है लेकिन देखने का दावा सब कर रहे हैं। कोई इन्हें अपनी लैब में दिखा रहा तो...

मोदी जी! टॉयलेट, अस्पताल, स्कूल…अर्थव्यवस्था..कुछ न चंगा सी

जहां प्राइमरी स्कूलों में लोग इसलिए लोग टीचर बनना चाहते हैं कि वहां आराम हैं, सरकारी नौकरी इसलिए लोग करना चाहते हैं क्योंकि वहां छंटनी का डर नहीं है…घूस है, पैसे हैं….वहां बेहतर सुविधाओं की उम्मीद भी करना पाप है.

इंटरव्यू: सबसे चर्चित और सबसे महंगे चालान का

कटने का डर हर जगह होता, कहीं इंसान का प्यार में कटता है तो कहीं दोस्त पार्टी के नाम पर लंबा कट देते हैं। इससे...

कश्मीर में क्या करना चाहती है नरेंद्र मोदी सरकार

2014 में नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी सरकार बनने के बाद से ही कश्मीर का मुद्दा इस सरकार के मुख्य एजेंडे में शामिल रहा है. समय-समय पर पीएम मोदी की तरफ से ऐसी बयानबाजियां देखने को भी मिली है